Skip to main content

Posts

छुट्टी की छुट्टी काहे की छुट्टी

गुरु तेग बहादुर शहीद दिवस के लक्ष्य में सरकारी स्कूल में अवकाश(holyday) था | पहले यह अवकाश 24 नवंबर 2017 को घोषित हुआ और बाद में 23 नवंबर 2017 को घोषित(declared) हो गया | आधुनिक टेक्नोलॉजी और WhatsApp ग्रुप के बदौलत लगभग सभी शिक्षकों को यह मैसेज मिल गया कि अवकाश 1 दिन पहले हैं | मेरी मां जो स्वयं एक शिक्षिका है इत्तेफाक से 1 दिन पहले उन्होंने WhatsAppखोला ही नहीं ( यद्यपि हमारी पीढ़ी के साथ साथ चलने वाली माता जी के विषय में यह आश्चर्यचकित कर देने वाली घटना थी, पर यह घट ही गई और वह सुबह स्कूल को पहुंच गई | उनका विद्यालय ग्रामीण क्षेत्र में पड़ता है | नवंबर के आखिरी सप्ताह में जब शहर में ठंड थी | आप स्वतः समझ लें , ग्रामीण क्षेत्र में सुबह कितनी ठंड होती होगी, घना कोहरा छाया रहता है और ऐसे में उनका विद्यालय सड़क पर है | जब माता जी वहां पहुंची | तब उन्हें विद्यालय बंद मिला और बच्चों का झुंड सड़क किनारे खेलते, उछलता -कूदता ,मस्ती करता हुआ मिला | बच्चे इस इंतजार में थे ,कि शायद विद्यालय आज लेट खुलेगा और जब मां ने mobile से अपने साथ के अन्य शिक्षक- शिक्षिकाओं से संपर्क साधा तब पता चला की छु…

कान्वेंट स्कूल के फंदे

मेरा बचपन  इलाहाबाद में बीता है | बचपन में अपने आसपास के बच्चों को conventschool में जाते देख मेरी भी इच्छा होती थी कि मेरी पढ़ाई हिंदी माध्यम की जगह अंग्रेजी माध्यम से हो | School के बाद कॉलेज में A TO ZENGLISH SYLLABUS से जब  पाला पड़ा तो अंग्रेजी माध्यम के विद्यार्थियों  की अपेक्षा हिंदी माध्यम से होने की वजह से मुझे अच्छी खासी परेशानी झेलनी पड़ी यह अलग बात है कि हमारी अंग्रेज़ी की नीव मज़बूत होने की वजह से  कॉलेज पूरा होते होते  हम अंग्रेजी के अभ्यस्त चुके थे |  अपने अतिरिक्त जेब खर्च को पूरा करने के लिए हमने अपनी सहेली की सलाह पर एक औसत दर्जे के convent school में पढ़ाने की ठानी |  इस school kemanagement ने हमें 2 हजार रुपये मासिक वेतन देने की बात कही क्योंकि रिजल्ट आने में 1 माह का समय शेष था | हमने भी हामी भर दी |  धीरे धीरे हमें इस convent schoolके कुछ गुप्त नियम ज्ञात हुए जो निम्न वत है --- 1.School 8:00 बजे सुबह शुरू होता है तो यदि शिक्षिका 8:30 पर आई तो उसके आधे दिन का वेतन कटेगा | ( अब तक के जीवन में मैंकभी भी कहीं भी लेटलतीफ नहीं हुई अतः मुझे इस नियम से कोई समस्या नहीं थी|) 2.इस …

क्या आप और आपका परिवार सम्पूर्ण भोजन करते है ?

हिन्दू पुराणोंमें एक कथा आती है ,जिसके तीन मुख्य पात्र है – धन के देवता कुबेर ,गणेश जी और भगवान् शिव | कुबेर एक बार भगवान् शिव को अपने घर आमंत्रित करते है | कुबेर का वास्तविक उद्देश्य संसार के सामने अपनी अकूत धन संपदा का प्रदर्शन करना होता है सो वह सभी गणमान्य जनों को अपने यंहा भोजन हेतु आमंत्रित करते है | अन्तर्यामी शिव आमंत्रण के पीछे छुपे इस अहंकार भरे उद्देश्य को जान लेते है और अपने परिवार के ओर से अपने पुत्र गणेश को भोजन में शामिल होने के लिए भेजते है | गणेश के कुबेर के महल पर पहुँचने पर कुबेर अहंकारवश .गणेश जी को उचित आदर नहीं देते | कथा आगे बढती है और देखा यह जाता है , अकूत धन-संपदा के स्वामी कुबेर गणेश जी की भूख शांत नहीं कर पाते उन्हें अपने भोजन से तृप्त नहीं कर पाते | अन्त्वोगात्वा कुबेर को अपनी भूल का एहसास होता है और उनके गणेश जी से क्षमा माँगने पर और गणेश जी को उचित आदर देकर भोजन कराने पर गणेश जी की भूख शांत होती है |
ये कहानी हमे बताना क्या चाहती है और इस लेख से इसका क्या सम्बन्ध है ? हममे से ज्यादातर यह सोचेंगे की यही शिक्षा मिलती है अहंकार नही करना चाहिए पर यह सिर्फ एक बा…
TREE ABOVE ALL


size 16'x19'.acrylic medium on stretched canvas.perfect blending of warm colors.give the feeling of refreshment . perfect for wall decor. vivid colors of art would brighten your wall.BUY FROM HEREhttps://www.ebay.in/itm/162752000947?ssPageName=STRK:MESELX:IT&_trksid=p3984.m1555.l2649 or buy from here




BUY FROM HERE-
https://www.ebay.in/itm/162753032936?ssPageName=STRK:MESELX:IT&_trksid=p3984.m1555.l2649




https://www.ebay.in/itm/MURAL-PAINTING-OF-LORD-BUDDHA/162755616349?hash=item25e4fd9e5d:g:RVUAAOSwZW5aC~og

DESCRYPTION---

Beautiful artwork of LORD BUDDHA from ajanta cave.SIZE OF PAINTING UNFRAMED 18'X18' INCHES. This artwork Come with glass framed.Adorable mural painting made on wood and medium is acrylic with well varnished so that it's vivid colors does not get fade with timeframe.
https://www.ebay.in/itm/162753032936?ssPageName=STRK:MESELX:IT&_trksid=p3984.m1555.l2649



Move your Sensitivity at next level :Energy of food- Potential possibilities of An Empath

“Something buried there, it is odious.” Said Edward. Freya had astonished when Edward disclaimed pizza’s flavor like this. It had been very late when Edward and Freya were returning from office .Both hunger stopped at front of a popular pizza shop and made an order for two pizza and coke. Edward was a great admirer of the flavor, the pizza shop deliver into its pizza. After having one the pizza lover order for next one ,but when it come to him ,he did not feel either good to see that or it was like his intuition did not give good sign to eat that. He was not feeling correct vibration for late night only considered meal for him .something he is feeling lower than good. Soon his all attention went on Freya’s exciting talk about arranging passes of the concert, while he took a bite of the pizza. Suddenly he had been understand why his attention warned him. His inner empathy had told him all the story. Edward said, “Something buried there and it’s odious.” Freya got shocked to hear this stat…