अपने रिश्तो को लेकर अच्छा महसूस करें

बात करते हैं  उन् आत्माओं की जो आपकी सहायता करने के लिए जीवन धारण करती है और उन् आत्माओं की जो सूक्छ्म रूम से आपके साथ रहती है आपकी सहायता के लियें |
                अब ज़रा इस बात को ध्यान से पढने और समझने की कोशिश करिएगा | क्योकिं यह भाग थोड़ा कठिन हो जाता है | वास्तव में शरीर धारण करने से पहले ही हम ये निश्चित कर लेते है की इस जीवन में मुझे अपनी कौन सी शक्ति को जागृत करना है ,कैसे करना है ? कौन कौन सी वो आत्माएं है जिनके मेरे सामान ही उद्देश्य है ? उनसे मुझे जीवन  के किन रास्तो पे मिलाना है | ऐसे कौन से घटनाचक्र है जो किसी खास उद्देश्य की  पूर्ती के लिए ज़रूरी है ? ऐसा देखा गया है कि एकसमान उद्देश्यों के पूर्ती के लिए कई आत्माएं एक परिवार का रूप लेती है | या फिर यदि किसी आत्मा को कोई खास उद्देश्य पूरा करना होता है तो उसके सहायता के लिए दूसरी आत्मा उसके मित्र या शत्रु के रूप में भी जन्म लेती है |
दूसरी आत्माओ से ऐसा करने के लिए हम ही कहते है वो हमारे उद्देश्य को पूरा करने के लिए हमारी जन्म से पहले या जन्म के बाद या या फिर जन्म के साथ ही जन्म लेती है जैसे हमारे माता पिता के रूप में भाई बहिन के रूप में दोस्त यार के रूप में हमारे बच्चो के रूप में , यंहा तक की कभी कभी शत्रु के रूप में |
ये पता लगाना थोड़ा आसान रहता है कि  वो कौन सी आत्मा है जोकि हमारी सहायता के लिए आयी है , हमारे लिए जन्म धारण किया है | अपने जीवन में विचार कीजिये ऐसा कौन है जिसके विचार  ,जिसके कर्म आपके जीवन को सकारात्मक दिशा में ले जाने का प्रयत्न करते है ? ऐसा कौन है जिसकी हरकतों के बाद आपको भगवान् याद आ जाते है ,वो इंसान जो आपको ऐसा महसूस कराये कि अभी भी कुछ ऐसे काम है जिन्हें पूरा करना है जो आपके जीवन को सकारात्मक दिशा में बढाने के लिए प्रेरित करें | वो जिसके साथ होने में आप अंदरूनी शांती पाते हो या फिर जिसके होने पर आपको किसी चीज़ की बेचैनी महसूस होती हो वो जो आपको सही दिशा में चलने के लिए परेशान करे जो आपको सोचने विचारने पर मजबूर कर दें | कभी कभी ये काम बच्चे भी करते है जी हाँ छोटे बच्चे ....उनके शरीर और उम्र के फेर में मत पढ़िए बिना उर्जा महसूस किये आप ये नही जान सकते की उस बच्चे के शरीर में वास करने वाली आत्मा आपसे नयी है  अथवा पुरानी | कई बार हमारे आस पास खेलते हुए बच्चे भी कुछ गहरी बातें कर देते है | उस पर विचार करिए क्या पता उन्होंने आपसे भी ज्यादा दुनियां देखी हो | 
 क्या कभी ऐसा हुआ है कि किसी ने आपके जीवन का कोई बड़ा फैसला लिया हो या आपको लेने पर मजबूर किया हो या फिर आपकी सहायता की हो , और सालो बाद जब आप पीछे  की तरफ  देखे तो ऐसा लगे कि उस फैसले ने आपके जीवन को आगे बढ़ाया हो | एक उन्नत्ति सी महसूस हुई हो ?

                                                                कुछ आत्माएं सूक्ष्म शरीर से भी हमारे साथ रहती है अक्सर ये हमारे प्रियजन होते है जो हमारा ख्याल रखने के लिए हमे मुसीबतों से बचाने के लिए भी हमारे साथ रहते है ऐसा भी होता है कि किसी   आत्मा ने हमारे लिए शरीर धारण किया हो और बाद में छोड़ दिया हो पर फिर भी प्रेमवश हमारे साथ रहती है | अक्सर लोगो ने  अपने माँ बाप अपने जीवन साथी  को शरीर छोड़ने के सालो  बाद भी अपने साथ महसूस किया है | कई बार ध्यान में बैठने पर या सपनो में हमे कोई ऐसा दीखता है जो हमारे साथ प्रेमपूर्वक व्यहवार करता है | बातें करता है | हमारी समस्याओं को सुनता है | ऐसा महसूस होता है , जैसे वह हमारे साथ हमेशा से था पर जब हम ध्यान से उठते है या नींद से जागते है ये अपनेपन का एहसास तो साथ में रहता है पर वो कौन  है क्यों हमसे बात करता है या करती है हमारे जीवन में तो कोई भी  नही है जिसे हमने देखा था जिससे बांटे करी थी | हम ऐसा सोचते है वास्तव में वो आत्मा किसी जन्म में हमारे साथ थी और इस बार भले ही आपके साथ उसने जन्म नहीं लिया पर आपके उद्देश्य की पूर्ती के लिए आपकी सहायता के लिए या फिर आपके प्रेमवश वो अब भी आपके साथ है अक्सर हमारे पूर्वज दादा -दादी , पर दादा -पर दादी , पिछले जन्म के माता पिता ये सब साथ होते है कई बार परिवार कुल या खानदान के हित के लिए पूर्वज भी  साथ रहते है | हमे कई मुसीबतों से बचाते है और कई बार हमारे गलत निर्णयों पे हमसे नाराज़ भी हो जाते है  | अब इसका मतलब यह भी नहीं कि वो आत्माए भटक रही है या उनकी मुक्ति नही हुई | यह उनका आपके प्रति प्रेम है जो उन्हें आपके साथ रखता है |

कोई आत्मा आपकी सहायता के लिए आई है ! यह इस बात से भी जाना जा सकता है कि अगर आप आगे की तरफ अग्रसर होंगे ,अगर आप ज्यादा शांत होंगे ज्यादा खुश होंगे, तो वह आत्म संतुष्टि महसूस करेगी | आप किसी के सहायता के लिए  आते है तो आप उसे किसी कष्ट में नहीं देख पाएंगे उसकी सहायता करने की ,उसकी आगे बढ़ने में उसकी सहायता करने के  लिए हैरान परेशान  रहेंगे और अगर आप ऐसा नहीं कर पा रहे है तो  आपको पश्चाताप भी खूब होगा | वास्तव में हम सहायता लेने और देने साथ में..... खेलने में... तीनो ही काम करते है | जीवन जिन उद्देश्यों की लिया उसे भी पूरा करने की कोशिश करते है और जीवन को एन्जॉय करने की भी कोशिश करते है |
 कौन सी आत्मा आपकी सहायता के लिए आई है ? इसका पता आप ऐसे भी लगा सकते हैं कि आप उसके और अपने संबंधों की विवेचना करें एनालिसिस करें और यह जाने कि क्या उस रिश्ते का जिस रिश्ते में आप और वह आत्मा  है... क्या इस रिश्ते से आपकी उन्नति हो रही है ? या अवनति हो रही है ? यदि उन्नति हो रही है तो इसका मतलब यह है कि वह आत्मा जिसने यह शरीर धारण किया है वह आपकी सहायता के लिए आई हुई है और अगर अब अवनिति  हो रही है अर्थात आप और पीछे की तरफ जा रहे हैं  तो इसका मतलब साफ है कि वह आत्मा  खेलने का मन बना कर आइ है  या किसी संस्कार वश  आपके किसी कर्म वश  आपसे जुड़ी हुई है | ऐसा देखा गया है कि कई बार शत्रु एक इंसान को आगे बढ़ने के लिए मजबूर कर देते हैं ....कई बार मित्र पीछे ले जाते हैं यदि कोई शत्रु आपका आपको आगे बढ़ने के लिए जीवन में आगे बढ़ने के लिए मजबूर करें दबाव डालें या प्रेरित करें तो समझ जाइए कि वह आपकी सहायता के लिए आई हुई है और अगर कोई मित्र आपको पीछे की तरफ लेकर जाए किसी तरीके की व्यसन में डालें फिर  जान जाइए , या तो वह संस्कारवश आपसे जुड़ी हुई है और या फिर उसे यह जीवन का खेल भा रहा है और वह जन्मो जन्मो तक इसे खेलना चाहती है |



अपने संबंधों को लेकर ,अपने रिश्तो को लेकर खुश महसूस करें ,सकारात्मक महसूस करें आप नहीं जानते हैं कि कौन सी आत्मा आपकी सहायता के लिए आई हुई है | आप यह भी नहीं जानते कि आप किसकी सहायता के लिए आए हैं इसलिए कभी भी सहायता देने से चूकिए  मत |
मुस्कुराइए और लोगों को भी मुस्कुराने दीजिए | खुश होइये  और लोगों को भी अचंभित होने दीजिए | अगर आपको ऐसा महसूस होता है कि कोई आपकी सहायता के लिए ही इस जीवन पर आया है तो उसका धन्यवाद दीजिए कहकर नहीं दे सकते तो मन-ही-मन दीजिए | यकीं मानिए सामने वाला आपके शुक्रिया को महसूस कर लेगा और उचित समय आने पर श्रृष्टि खुद आप तक यह सन्देश पहुंचाएगी कि आपके शुक्रिया को उस आत्मा ने स्वीकार कर लिया  है | और आप अपने इए दैवीय शक्ति से बातें करने के रास्तों को भी खोलेंगे |


Comments

Popular posts from this blog

साँसे और आध्यात्मिकता ( Management of breathing and spirituality) पार्ट - 1

After Knowing This , You will Never Walk Alone